फ्लिर्टिंग के दौरान होने वाले शारीरिक बदलावों को जानना है जरुरी - पढ़े यहाँ

आप सभी लोगों को एक बात पता है कि लड़कियों का सिक्स सेंस बहुत अच्छा होता है।

6 days ago
फ्लिर्टिंग के दौरान होने वाले शारीरिक बदलावों को जानना है जरुरी - पढ़े यहाँ

आप सभी लोगों को एक बात पता है कि लड़कियों का सिक्स सेंस बहुत अच्छा होता है। सभी लड़कियां पलभर में समझ जाती है कि उनके सामने खड़ा लड़का उनसे प्यार कर रहा या फिर उनके साथ फ्लर्ट करने की कोशिश कर रहा है। यह बात लड़के भी अच्छे से जानते है। इसके बावजूद भी लड़के फ्लर्ट से बाज नहीं आते है। कभी कभार लड़के लड़की को इम्प्रेस करने के लिए उनके साथ मस्ती मजाक के साथ - साथ फ्लर्ट भी करने लग जाते है।

सभी लड़कों को यह पता नहीं होता कि लड़कियों के साथ फ्लर्ट करते समय उनके बॉडी लैंग्वेज में चेंज आता है। जिनकी वजह से लड़कियां लड़को को अच्छे तरह से जान जाती है कि सामने वाले लड़के के मन में क्या चल रहा है और वह लड़का बात बात में उसके साथ फ्लर्ट कर रहा है।  

फ्लर्ट के ऊपर कई अध्ययन किए गए है। जिनके रिजल्ट में सामने आया है कि जो इंसान फ्लर्ट करने में माहिर होता है। उस इंसान के शरीर में सफ़ेद ब्लड सेल ज्यादा और इनकी प्रतीक्षा प्रणाली की क्षमता अच्छी होती है। इन लोगों का स्वास्थ्य भी अच्छा होता है। आइए जानते है फ्लिर्टिंग के दौरान शरीर में क्या - क्या बदलवा आते है।

बॉडी लैंग्वेज चेंज

Source = Firstmet

जब भी कोई लड़का या लड़की किसी से फ्लर्ट करता है तो उसकी बॉडी लैंग्वेज में चेंज आना शुरू हो जाता है। फ्लर्ट के दौरान जब भी लड़का किसी लड़की से बात करता है। तो वो अपने बालों में हाथ फेरता, कानों में हाथ लगाता या फिर लड़का लड़की के होठों की तरफ निहारता है। इन सब बातों से यह साबित होता है कि लड़का लड़की से फ्लर्ट के दौरान संकोच महसूस कर रहा है।

दिल धड़कने दो

Source = Unisci24

जब कोई लड़का किसी लड़की के साथ फ्लर्ट करता है। तो उस समय लड़के के दिल की धड़कने बढ़ने लगती है। यह सब मेटाबोलिज्म के कारण होता है। फ़्लर्ट के दौरान मेटाबोलिज्म धीमा हो जाता है।

दिमाग रहता है सावधान

फ्लिर्टिंग के दौरान हमारे दिमाग को भी यह पता होता है कि फ्लर्ट करना केवल एक मस्ती मजाक है। इसी वजह से हम अपने आप को रिजेक्ट के लिए तैयार रखते है। लड़कों को अच्छी तरह से पता होता है कि रिजेक्ट होने के बाद भी कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

फ्लर्ट के दौरान ब्लशिंग

Source = Mensxp

अक्सर देखा गया है कि लड़का लड़की एक दूसरे से प्यार करते है। तो उन लोगों का चेहरा बिल्कुल लाल-सा या फिर शर्म से लाल हो जाता है। ऐसा ही फ्लर्ट के भी समय होता है। यह सब हमारे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन के तेज होने के कारण होता है।  

फ्लिर्टिंग की आदत

जो लड़के फ्लिर्टिंग में माहिर होते है। वो शुरुआत के दौर में एक लड़की के साथ फ्लर्ट करते है। परन्तु बाद में हर लड़की के साथ फ्लर्ट करना शुरू कर देते है। यह सब एक कारण से होता है। यह सब  इंसान के दिमाग में पाए जाने वाले न्यूरोकेमिकल के कारण होता है। इसी वजह से इंसान ऐसा व्यवहार करने लग जाता है।

हथेली में पसीना

जब कोई लड़का किसी लड़की के साथ फ्लर्ट करता है। तो उस समय लड़के के हाथ में पसीना आने लग जाता है। यह सब मेटाबोलिज्म बढ़ने की वजह से ब्लड प्रेशर तेज हो जाने के कारण होता है।

आँखों की पुतलियों का बढ़ना

जब भी आप लोग किसी चीज़ से डरते है। तो उस समय आपकी आंख की पुतली बड़ी और ठहरकर रह जाती है। यह सब उसी प्रकार से होता है। जब आप किसी लड़की से फ्लर्ट करते समय कुछ बोलते है और सामने वाले के रिएक्शन का इंतज़ार कर रहे होते है। इस समय भी आप की आंख की पुतली बड़ी हो जाती है।

हार्मोन्स का निकलना 

जब भी आप लोग फ्लर्ट करते है। तो उस समय आपके शरीर में भिन्न-भिन्न तरह के हार्मोन्स का स्त्रवण होता है। इन हार्मोन्स की वजह से आप सामने वालों के प्रति ओर भी ज्यादा आकर्षित होते है। इसके चलते आपको उस लड़की का साथ ज्यादा पसंद आने लग जाता है।

जोर से हंसना

जब भी कोई लड़का किसी लड़की के साथ फ्लर्ट करता है। तो इस दौरान लड़के शरीर से निकलने वाले ऑक्सीटोसिन हार्मोन के कारण हँसाने लग जाते है। यह हार्मोन्स इस बात का संकेत देता है कि जिस लड़की के साथ आप फ्लर्ट कर रहे है। वो आपकी बातों में आ रही है। इसी वजह से आप हँसने लग जाते है।

Comment

Popular Posts