15 साल बाद कश्मीर में दिखा ये नजारा - 4000 जवानों ने चलाया सबसे बड़ा सर्च ऑपरेशन

जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद रुकने का नाम ही नही

3 months ago
15 साल बाद कश्मीर में दिखा ये नजारा - 4000 जवानों ने चलाया सबसे बड़ा सर्च ऑपरेशन

जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है। आतंको द्वारा की जा रही खौफनाक हरकतों की न्यूज़ हर दिन सुनने को मिलती है। हाल ही में एक और नया विडियो सामने आया है। इस विडियो में आतंकी एक युवक के सिर से बाल उतारते नजर आ रहे हैं। जबसे यह विडियो सामने आई है तबसे सा हड़कंप मच गया है। पीड़ित युवक को ग्राम रक्षा दल का सदस्य बताया जा रहा है।

वैसे तो अभी इस वीडियो को वैरीफाइड नहीं किया जा सका है। सुनने में आ रहा है कि आतंकी जिसके सिर से बाल उतार रहे हैं, वह पुलिस में एसपीओ है।

सुरक्षाबलों द्वारा सर्च ऑपरेशन शुरू हुआ

Source = Livemint

इन सब घटनाओ को देखते हुए कश्मीर में सुरक्षाबलों ने आतंकियों को ढूंढ़ने के लिए एक बड़ा कदम उठाया है। सुरक्षाबलों द्वारा सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया है, वे घर-घर जाकर आतंकवादियों की तलाश कर रहे हैं। इस ऑपरेशन के तहत गुरुवार को आर्मी ने लगभग 20 गांवों को घेर लिया था।

4000 सुरक्षा जवानों की टीम

Source = Indianexpress

दक्षिण कश्मीर के शोपिया जिले में चलाए गए इस ऑपरेशन में 4 हजार सुरक्षा जवान शामिल थे। एक सीनियर अधिकारी ने जानकारी दी कि इस स्तर का सर्च ऑपरेशन पिछले 15 सालों में कभी नहीं चला है। 1990 के दशक में ही यहां मकानों की तलाशी बंद हो गई थी। इस ऑपरेशन में राष्ट्रीय राइफल की चार बटालियन, सीआरपीएफ की आठ कंपनी और जम्मू कश्मीर पुलिस की पांच प्लटन शामिल थी। इसके अतिरिक्त तीस महिला कांस्टेबल और भारतीय रिजर्व फोर्स को भी शामिल किया गया था।

ऑपरेशन क्लीन अप

संयुक्त दल ने शोपिया के गांवों में गुरुवार सुबह ‘‘ऑपरेशन क्लीन अप’’ शुरू किया। इस दौरान वहां हेलीकॉप्टर और ड्रोन आसमान से नजर रखे हुए थे। कुछ उग्रवादियों ने शाम के समय, इस ऑपरेशन में शामिल 62 राष्ट्रीय रायफल के जवानों पर हमला भी किया। इस हमले में एक नागरिक की मौत हो गई और चार जवान घायल हो गए। यह हमला चौदारी गुंड और केल्लार इलाके में तलाशी के दौरान हुआ।

दिल्ली में आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने पत्रकारों को बताया कि यह खोजबीन अभियान घाटी में स्थिति को नियंत्रित करने के लिए चलाया गया है। उन्होंने कहा, “तलाशी अभियान इसलिए चलाया गया क्योंकि यहां हाल ही में कुछ बैंक लूटे गए और कुछ पुलिसवालों की हत्या की गई। इस तरह के ऑपरेशन अक्सर चलाए जाते हैं।

Comment