सुकमा हमले का CRPF ने लिया बदला - बीजापुर में 15 नक्सलियों को किया ढेर

सक्मा नक्सली हमले में शहीद हुए CRPF जवानों का बदला

5 months ago
सुकमा हमले का CRPF ने लिया बदला - बीजापुर में 15 नक्सलियों को किया ढेर

सक्मा नक्सली हमले में शहीद हुए CRPF जवानों का बदला लेते हुए, सेना ने छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में रविवार से मंगलवार तक नक्सल रोधी अभियान चलाया और इस अभियान के तहत 20 नक्सलियों के मारे जाने की सम्भावना जताई जा रही है। सेना अधिकारियों के मुताबिक कोबरा बटालियन ने 13-14 मई की रात सुकमा और बीजापुर में ऑपरेशन चलाकर 15 से 20 नक्सलियों को ढेर कर दिया।

यह जानकारी सीआरपीएफ के आईजी विवेकानंद सिन्हा द्वारा दी गई है। उन्होंने बताया कि बीजापुर जिले के बासागुड़ा थाना क्षेत्र के रायगुंडम के जंगलों में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच कई बार मुठभेड़ हुई। इसमें हमारे सुरक्षा बलों ने 15 नक्सलियों को मौत के घाट उतारा है। इस मुठभेड़ के चलते सुरक्षा बल का एक जवान शहीद हो गया और दो जवान घायल हुए है।

एंटी नक्सल ऑपरेशन का परिणाम

Source = Indianexpress

  • छत्तीसगढ़ के बीजापुर और सुकमा में CRPF ने नक्सलियों को घेरा।
  • ऑपरेशन में 15-20 नक्सलियों के मारे जाने की पुष्टि, घायल जवानों को इलाज जारी।
  • मारे गए अधिकतर नक्सली सुकमा हमले में शामिल थे।
  • 13-14 मई के दौरान चलाया गया एंटी नक्सल ऑपरेशन
  • सूत्रों के मुताबिक रायगुंडम के जंगलों में 100-150 की संख्या में नक्सलियों के सक्रिय होने की खबर मिली थी। जिसके बाद यह ऑपरेशन चलाया गया था।
  • 24 अप्रैल को सुकमा में हुए नक्सली हमले 25 जवान शहीद हुए थे, यह ऑपरेशन उसी का बदला था।
  • 2 अलग-अलग पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 20 के करीब नक्सली मारे गए, जिनके शवों को उनके साथी साथ ही ले गए।


वीडियो भी किया जारी

इस ऑपरेशन को लेकर एक वीडियो भी जारी किया गया है। इसे उस ऑपरेशन के दौरान फिल्माया गया, जो सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन ने नक्सलियों के खिलाफ छेड़ा है। इस वीडियो में कोबरा के जवान जंगलों में पोजीशन लेकर फायरिंग करते हुए दिखाई दे रहे है। सीआरपीएफ ने नक्सलियों को मार गिराया है। यहाँ तक की फायरिंग की आवाज भी साफ-साफ सुनाई दे रही है।

बड़ी संख्या में मरे है नक्सली

Source = Ibtimes

आईजी ने बताया कि नक्सलियों के मारे जाने का अंदाजा गिरे खून और लाशों को घसीटे जाने के साक्ष्यों के आधार पर लगाया है। इस ऑपरेशन के तहत जो जवान घायल हुए है उनका रायपुर में इलाज चल रहा है और शहीद जवान के शव को पूरे सम्मान सहित उनके गृहग्राम रवाना किया गया है। 

रायगुंडम के जंगलों में 100-150 की संख्या में नक्सली 

बीजापुर के पुलिस अधीक्षक केएल ध्रुव ने बताया की सुरक्षा बलों को खुफिया जानकारी मिली थी कि रायगुंडम के जंगलों में 100-150 की संख्या में नक्सली सक्रिय हैं। इसके लिए तीन दिनों से इलाके में अभियान चलाया जा रहा था। अभियान में सीआरपीएफ, डीआरजी, जिला पुलिस बल और कोबला बटालियन के जवान शामिल थे।

उन्होंने यह भी बताया कि मुठभेड़ के दौरान नक्सली अपने साथियों के शव साथ ले गए और यह पहली बार नहीं हुआ है। इससे पहले भी जब मुठभेड़ हुई है नक्सली साथियों के शव को लेकर जंगलों में भाग गए थे।


नक्सलियों को पहले समर्पण के लिए कहा कहा

Source = Wp

सीआरपीएफ (3.1-9) के आईजी ने बताया कि नक्सलियों के इस ऑपरेशन को अंजाम देने से पहले खास ड्रिल करवाई गई है। उन्हें इस बात को लेकर सचेत किया गया था कि वे घिर गए नक्सलियों को नहीं मारेंगे बल्कि समर्पण करने के लिए कहेंगे। यदि नक्सली ना माने तो ही मुठभेड़ जारी रहेगी। उन्होंने यह भी जानकारी दी कि पहली बार वायु सेना के हेलिकॉप्टर एमआई 17 की सेवा जंगल में जवानों तक रसद पहुंचाने और घायलों को ले जाने के लिए ली गई।

रेडियो इंटरसेप्शन

रेडियो इंटरसेप्शन की प्रक्रिया से खुफिया एजेंसियां अहम जानकारियां जुटाती हैं। इसमें फ्रिक्वेंसी में एनक्रिप्शन कर सामने वाले की बात सुनना, कई सिग्नल को डी-कोड कर मैसेज प्राप्त करने जैसी प्रक्रियाएं शामिल हैं। भारतीय खुफिया एजेंसियां इंटरसेप्शन की उच्च तकनीक का इस्तेमाल करती हैं।


Comment