कुलभूषण जाधव की फांसी पर अंतरराष्ट्रीय कोर्ट की रोक - बोखलाए पाक हैकर ने दी धमकी

भारतीय नौसेना के भूतपूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने बेबुनियाद आरोप लगाकर जेल में दाल दिया और उन्हें वहां की अदालत ने मौत की सजा सुनाई है। लेकिन भारत सरकार के प्रयासों का असर अब दिखने लगा है। जी हां, नीदरलैंड्स के हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत ने कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक लगा दी है। यह जानकारी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज जी ने ट्वीट करके दी।

सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर लिखा

भारत की बहुत बड़ी जीत

अंतरराष्ट्रीय कोर्ट (6.1-7) के इस फैसले के बाद पाकिस्तान से कोई प्रतिक्रिया नहीं आयी है। लेकिन भारत के अटाॅर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान इसे भारत की बहुत बड़ी जीत बताया है। वही दूसरी तरफ अन्य विशेषज्ञों का कहना है कि इंटरनेशनल कोर्ट के आदेश को मानाने के लिए पाक सरकार बाध्य नहीं है, लेकिन अगर उन्होंने यह फैसला नहीं माना तो, अंतरराष्ट्रीय मंच पर पाक अलग-थलग पड़ सकता है। यहाँ तक कि भविष्य में यादो वो कोई मामला लेकर इंटरनेशनल कोर्ट आॅफ जस्टिस में जायेगा, तो उस मामले की सुनवाई भी नहीं होगी। इन सब बातों से यह तो स्पष्ट हो जाता है कि पाकिस्तान अब चौतरफा घिर चूका है।    

भारत सरकार की याचिका का असर

भारत की तरफ से सीनियर एडवोकेट हरीश साल्वे ने कुलभूषण मामले को लेकर 8 मई को अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में याचिका दायर की थी। उन्होंने कोर्ट से मांग की थी कि भारत के पक्ष की मेरिट जांचने से पहले जाधव की फांसी पर रोक लगाई जाये।

उन्होंने अपनी याचिका में लिखा कि 'भारत की ओर से दायर अपील में यह भी बताया गया था कि कुलभूषण जाधव को अपना पक्ष रखने का मौका नहीं दिया गया, न ही उन्हें भारत के उच्चायोग के अधिकारियों से मिलने की इजाजत दी गयी.'


अंतरराष्ट्रीय कोर्ट का आदेश

अंतरराष्ट्रीय कोर्ट आॅफ जस्टिस के अध्यक्ष राॅनी अब्राहम ने पाक सरकार को पत्र लिखकर जानकारी देते हुए कहा कि 'वह इस तरह से कार्यवाही करे, जिससे इस मामले में जारी होनेवाले अदालत के किसी आदेश का क्रियान्वयन संभव हो सके. अपनी अपील में भारत ने पाकिस्तान पर राजनयिक संबंधों पर वियना सम्मेलन के भीषण उल्लंघन का आरोप लगाया है. इस बात पर जोर दिया है कि जाधव का ईरान से अपहरण किया गया था.'

पाक हैकर ने AIFF की वेबसाइट हैक की

Source = News18

शायद, भारत सरकार की इस जीत से बौखलाए एक पाकिस्तानी हैकर ने ऑल इंडिया फुटबाल फेडरेशन की वेबसाइट को हैक कर कुलभूषण जाधव की रिहाई को लेकर आपत्ति जनक शब्दों का प्रयोग किया।

जाधव को लेकर हैकर्स ने लिखा, भारत में कुलभूषण की लाश भेजी जाएगी. यह भी लिखा कि भारतीयों को स्नैपचैट और स्नैपडील में अंतर का भी पता नहीं है.

   
Comment
Most Popular
'Tubelight' के नन्हे कलाकार माटिन ने पत्रकार की नस्लभेदी टिपण्णी पर दिया करारा जवाब

'Tubelight' के नन्हे कलाकार माटिन ने पत्रकार ...

जब सब-इंस्पेक्टर ने एम्बुलेंस के लिए रोक दिया राष्ट्रपति का काफिला

जब सब-इंस्पेक्टर ने एम्बुलेंस के लिए रोक दिया...

ब्रह्मपुत्र नदी से असम टू बांग्लादेश गौ तस्करी का हैरान करने वाला खुलासा - देखें वीडियो

ब्रह्मपुत्र नदी से असम टू बांग्लादेश गौ तस्कर...

24 घंटे 4 बड़े ऑपरेशन - सेना ने लश्कर और हिज्बुल के 5 आतंकी किये ढेर

24 घंटे 4 बड़े ऑपरेशन - सेना ने लश्कर और हिज्ब...

मोदी सरकार ने 3 सालों में 1200 व्यर्थ और सदियों पुराने कानूनों को किया खत्म

मोदी सरकार ने 3 सालों में 1200 व्यर्थ और सदिय...

संसद के विशेष सत्र में 30 जून को रात 12 बजे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी लॉन्च करेंगे GST

संसद के विशेष सत्र में 30 जून को रात 12 बजे र...

रामनाथ कोविंद होंगे एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार - बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह

रामनाथ कोविंद होंगे एनडीए के राष्ट्रपति पद के...

अयोध्या को लेकर आप निश्चिंत रहें, जो भावनाएं हैं, उन्हें पूरा किया जाएगा - योगी आदित्यनाथ

अयोध्या को लेकर आप निश्चिंत रहें, जो भावनाएं ...