मुस्लिम समुदाय में भी होगा सबका साथ, सबका विकास - पीएम मोदी ला रहे ये नया कानून

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने बीजेपी क

4 months ago
मुस्लिम समुदाय में भी होगा सबका साथ, सबका विकास - पीएम मोदी ला रहे ये नया कानून

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने बीजेपी को मुस्लिम विरोधी बताने वाले लोगो को जवाब दिया है। उन्होंने विपक्षी दलों के समुदाय को अधिक आरक्षण देने के मामले में कहा कि मांग का कोई संवैधानिक आधार नहीं है। इसके अलावा नकवी ने मोदी पर भी कुछ शब्द कहे; 

"नकवी ने कहा कि मोदी केवल प्रधानमंत्री ही नहीं है, वे ऐसे फकीर हैं जो सबका साथ, सबका विकास की अवधारणा के आधार पर देश को आगे बढ़ा रहे हैं" 

मोदी सरकार असंख्य लोगों के ना केवल आर्थिक बल्कि सामाजिक एवं शैक्षणिक सशक्तिकरण की दिशा में भी कार्य कर रही है।

70 साल बाद पिछड़े वर्ग के लिए अभूतपूर्व फैसला 

अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने कहा कि मुस्लिम समुदाय ने संकेत दिया है कि वे भाजपा विरोधी ताकतों को राजनीतिक फायदे के लिए उन्हें गुमराह करने या बेबकूफ बनाने नहीं देंगे।

नकवी ने जानकारी दी कि केंद्र सरकार अल्पसंख्यक समुदाय के लिए शिक्षण एवं कौशल विकास सुविधाएं लाने पर काम कर रही है। अधिक से अधिक उद्योगों को जोड़ा जा रहा है ताकि रोजगार के ज्यादा से ज्यादा अवसर पैदा हो सकें। उन्होंने यह भी बताया कि यह योजनाएं पिछड़े वर्गों के लिए पेश की जा रही हैं उस हिसाब से इसका लाभ मुस्लिम समुदाय के लोग भी उठा पाएंगे। यह लाभ मुस्लिम समुदाय की एक बड़ी आबादी पिछड़े समुदाय के लिए है।


मुस्लिम समाज के यह लोग उठा पाएंगे आरक्षण का लाभ

Source = Jagran

अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने कहा कि पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने वाले कानून के बनते ही मुस्लिम समाज के यह लोग इस आरक्षण का लाभ उठा पाएंगे:- 

  • कहार, केवट-मल्लाह,
  • कुम्हार, गुज्जर, 
  • गद्दी-घोसी, चिकवा-कुरैशी, 
  • जोगी, माली, तेली, दरजी,
  • नट, फकीर, बंजारा, बढ़ई, चूड़ीदार,
  • मोमिन-जुलाहा, मुस्लिम कायस्थ,
  • मंसूरी, धुनिया, बेहना, रंगरेज,
  • लोहार, हलवाई, हज्जाम, लाल बेगी, 
  • धोबी, मेव, भिश्ती, मदारी,
  • मोची, राज-मिस्त्री, 
  • कलवार आदि वर्ग के लोग

नकवी ने बताया कि संपन्न बजट सत्र के दौरान, लोकसभा में पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने वाला विधेयक पास हो गया किन्तु राज्यसभा में कांग्रेस, सपा सहित कम्युनिस्ट पार्टी, जनता आदि ने इसे पास नहीं होने दिया और इसी कारण वश पिछड़े वर्गो के अधिकारों की रक्षा करने वाला एक बड़ा कानून बन नहीं पाया।

ईवीएम से छेड़छाड़ को लेकर लगे आरोपों को लेकर भी नकवी ने कहा कि कांग्रेस ने दो बार केंद्र में सरकार बनाई। अरविंद केजरीवाल, मायावती, अखिलेख यादव, ममता बनर्जी इन सभी ने अपने अपने राज्यों में सरकार बनाई किन्तु तब तो ऐसे आरोपों को नहीं लगाया गया।




Comment