अबसे हर साल 24 जनवरी को मनाया जाएगा उत्तर प्रदेश दिवस – योगी आदित्यनाथ

रातो रात बड़े फैसले लेने को लेकर सुखियो में रहने वाले योगी आदित्यनाथ ने एक और बड़ा फैसला लिया है। योगी सरकार द्वारा यह एलान किया गया है कि अबसे हर साल 24 जनवरी को उत्तर प्रदेश दिवस मनाया जाएगा। दरहसल यह निर्णय इसलिए लिया गया है क्योंकि वर्ष 1950 में इसी दिन यूनाइटेड प्रोविंस का नाम उत्तर प्रदेश रखा गया था।

आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस फैसले के बारे में जानकारी दी गयी है। उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि पहले उत्तर प्रदेश का नाम यूनाइटेड प्रोविंस था। लेकिन 24 जनवरी 1950 को संशोधन करते हुए उसका नाम उत्तर प्रदेश रखा गया था।

उत्तर प्रदेश के बाहर भी इस दिवस को बनाया जायेगा 

मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने यह भी कहा कि इस दिवस को मनाने के लिए एक समिति का गठन किया जायेगा जिसमें संस्कृति विभाग और पर्यटन विभाग भी शामिल होंगे। उन्होंने यह भी कहा कि इस दिवस को सिर्फ प्रदेश में ही नहीं, बल्कि प्रदेश के बाहर भी मनाया जाएगा। इस दिवस पर खासतौर से उत्तर प्रदेश की सांस्कृतिक धरोहरों को प्रमुखता से बढ़ावा दिया जाएगा। 

लखनऊ में होगा कार्यक्रम 

अगले साल 24 जनवरी से इस दिवस को सेलिब्रेट किया जाएगा। एक अधिकारी ने जानकारी दी कि अगले साल 24 जनवरी को लखनऊ में एक कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा, जिसमें मुख्यमंत्री और राज्यपाल शिरकत करेंगे। आपको बतादे कि राज्यपाल राम नाईक ने वर्ष 2014 में ही तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से 24 जनवरी 2015 को यूपी दिवस के तौर पर मनाने का आग्रह किया था। राज्यपाल के मुताबित महाराष्ट्र में बसे उत्तर भारतीय यूपी दिवस मनाते हैं किन्तु उत्तर प्रदेश में ही इसे नहीं मनाया जाता।


जीएसटी बिल को भी पास कर दिया गया

Source = Intoday

सिद्धार्थनाथ सिंह ने प्रेस वार्ता के दौरान यह भी जानकारी दी कि कैबिनेट ने बैठक में बड़ा फैसला लिया है। जीएसटी बिल को भी पास कर दिया है, अब इस बिल को विधानसभा से पास करवाया जाएगा। राज्य में 1 जुलाई 2017 से जीएसटी बिल लागू हो सकते है। 

इसके अलावा ट्रांसफर पॉलिसी को लेकर भी इस बैठक में फैसला हुआ है। यूपी के स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि अब राज्य में 30 जून तक ट्रांसफर हो सकेंगे।


   
Comment
More News