निस्वार्थ भाव से सेवा करता है आरएसएस, उस पर ऊँगली उठाना गलत - योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) को लेकर बहुत बड़ी बात कही है। योगी ने कहा है कि कुछ लोग आरएसएस पर अंगुली उठाते हैं कि वो सांप्रदाकिता फैला रहे हैं। योगी के मुताबित यह लोग वोट बैंक की राजनीती का प्रयोग कर समाज को बाटने का प्रयास कर रहे है।  

अपने फायदे के लिए हो रहा है इतिहास का इस्तेमाल

यह सभी बाते योगी ने रविवार को लखनऊ में सुहेलदेव विजयोत्सव कार्यक्रम में कही। योगी ने आगे कहा कि लोग इतिहास को अपने फायदे के हिसाब से इस्तेमाल कर रहे हैं। योगी के कहना है लोग इतिहास को भूल गए है। हमारे देश में विदेशियों का हमला बढ़ा है। 

योगी के मुताबित जब-जब हम अपने इतिहास को भूलाएंगे तो इसका नुकसान समाज को ही उठाना पड़ेगा। यूपी सीएम ने यह भी कहा कि महाराज सुहेलदेव को इतिहास में जो जगह मिलनी चाहिए थी वह लोगों ने नहीं दी। शरारत के तहत ऐसे महापुरुषों को नजरअंदाज किया गया है।

आरएसएस करता है निस्वार्थ भाव से सेवा

Source = Intoday

सीएम योगी का कहना है कि आरएसएस निस्वार्थ भाव से कार्य करता है। यह लोगों के अंदर राष्ट्रीयता की भावना भी जाग्रत करता है। जब आरएसएस (6.1-6) मलिन बस्तियों में काम करता है तो लोग इसको लेकर भी उंगली उठाने लगते है और इसे सांप्रदायिकता का नाम दे देते है। 

योगी का कहना है कि अब वक्त आ गया है कि इस बात पर चर्चा हो कि कौन सांप्रदायिक है और कौन राष्ट्रवादी?

वोट बैंक बनाकर समाज को बाटा जा रहा है 

योगी ने बताया कि जो देश को कन्याकुमारी से कश्मीर तक राष्ट्र के तौर पर देखते हैं उन्हें लोग सांप्रदायिक कहते है। जबकि जो लोग उन्हें बांटने का काम करते हैं, वह खुद को मानवतावादी बताते है।

योगी ने कहा कि अशफाक उल्ला खां, डॉ अब्दुल कलाम, अब्दुल हमीद का हर कोई सम्मान करता है, किन्तु कुछ लोग बाबर, गोरी जैसों के साथ अपना नाता जोड़ते हैं। आप खुद ही सोचिए उनका स्थान कहा होना चाहिए।

बच्चो को बताएंगे कौन थे हमारे महापुरुष

Source = India

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत सरकार द्वारा यह फैसला लिया गया है कि वह इन सभी महापुरुषों को फिर से पाठ्यक्रम में शामिल करेगी। मुख्यमंत्री के मुताबित जब तक बच्चों को यह नहीं बताया जायेगा कि हमारे महापुरुष कौन हैं, तो उन्हें उनके बारे में कैसे पता चलेगा। आजादी के बाद से इतिहास को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया। जिन लोगों ने यह शरारत की है उन्हें अब लोगों के सामने लाना जरुरी हो गया है। इसी के चलते योगी ने उत्तरप्रदेश में महापुरुषों के नाम से मिलने वाली छुटियो को बंद कर दिया है।  


   
Comment
Most Popular
निस्वार्थ भाव से सेवा करता है आरएसएस, उस पर ऊँगली उठाना गलत - योगी आदित्यनाथ

निस्वार्थ भाव से सेवा करता है आरएसएस, उस पर ऊ...

पीएम मोदी ने कहा खत्म करेंगे आतंकवाद - लड़ाई में तुर्की भी देगा साथ

पीएम मोदी ने कहा खत्म करेंगे आतंकवाद - लड़ाई ...

तीन तलाक को राजनीतिक ना बनाये - यह पुरानी व्यवस्था जल्द खत्म होगी: पीएम मोदी

तीन तलाक को राजनीतिक ना बनाये - यह पुरानी व्य...

दुर्भाग्यपूर्ण घटना: महिला ने पीएम मोदी पर फेंका जूता - वीडियो वायरल

दुर्भाग्यपूर्ण घटना: महिला ने पीएम मोदी पर फे...

दिव्यांगों के विकास के लिए योगी सरकार की नई योजना - देखें कैसे मिलेगा लाभ

दिव्यांगों के विकास के लिए योगी सरकार की नई य...

क्या योगी आदित्यनाथ, अखिलेश यादव का प्रचार कर रहे है?

क्या योगी आदित्यनाथ, अखिलेश यादव का प्रचार कर...

MCD Election Result: दिल्ली वालों के अच्छे दिन - आप के बुरे दिन - प्रचंड जीत की ओर बीजेपी

MCD Election Result: दिल्ली वालों के अच्छे दि...

देखें आजम खान की हैवानियत के अन्य खुलासे

देखें आजम खान की हैवानियत के अन्य खुलासे