देखें आजम खान की हैवानियत के अन्य खुलासे

खुद को मुसलमानो का भगवान कहने वाले आजम खान का सच &n...

3 months ago
देखें आजम खान की हैवानियत के अन्य खुलासे

खुद को मुसलमानो का भगवान कहने वाले आजम खान का सच  आज एक-एक करके सबके सामने आ रहा है। वीडियो में आप खुद देखिये की उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक मामलो के मंत्री मौसम रजा सुनी वफ्फ बोर्ड के दफ्तर में थे। उनके हाथ में आपको कुछ अधजली फाइल्स नजर आएँगी, वो अफसरों से कह रहे थे कि आपने कोई बहुत बड़ा घोटाला छुपाने की कोशिश की है।

रिपोर्टर अमित प्रकाश ने हर कसौटी को कसने के बाद यह रिपोर्ट्स सौंपी है। इनमे आजम खान के सारे करतूतों का सच है। जमीनों पर कब्ज़ा हुआ, लोगो के घर उजाड़े गए, यतीम खानो को हड़प लिया गया। ज़ी टीवी के संवादाताओं ने सारे मामलो में जाँच पड़ताल कर और पीड़ितों से बात करके रिपोट्स पहुंचाई है।

खुलासा न - 3: यतीमखाने की 10 एकड़ जमीन पर अवैध कब्जा

Source = Patrika

आजम खान ने यतीमखाने की 10 एकड़ जमीन पर कब्जा कर लिया और अब उस जमीन पर वे निजी स्कूल बनवा रहे है। रिपोर्टर्स से जानिए यही रहने वाली एक पीड़िता का बयान

पीड़ित का नाम - सज्जादी बेगम 

एक बुजुर्ग महिला करीब 16 महीने पहले यतीमखाने की जमीन पर अपने छोटे से आशियाने में रहती थी। आजम खान ने रातो रात इस जमीन पर कब्ज़ा कर लिया, जिसके चलते 42 परिवार सड़क पर आ गए। 

पीड़िता ने कहा कि आजम खान तू मुसलमान नहीं है, तू मुसलमान नहीं है। उन्होंने बताया कि वो लोग पुरे इंतजाम से आये, सारे घर तुड़वा दिए। हम कहा जाते, सड़क पर आ गए थे, किसके घर जाते, कौन खुश रखता, इतनी रात में हमें निकाल दिए। रामपुर की मुस्लिम महिला का यह दर्द, तकलीफ और यह बद्दुआ यह बयां करती है कि क्या हुआ होगा।

खुलासा न - 4: यतीमखाने की 50 करोड़ की जमीन पर स्कूल

Source = Upuklive

जिस यतीमखाने की जमीन की हम बात कर रहे है वो वफ्फ नंबर 157 पर मौजूद है। 4 अक्टूबर 2013 की रात को यतीमखाने पर कब्ज़ा किया था। वहां रहने वाले जितने भी लोग थे उन्हें आधी रात को वहा से हटा दिया गया, सारे घरो पर बुलडोजर चलाये गए। रहने वाले लोगो में महिलाये और बच्चे भी शामिल थे सभी को थाने पहुंचाया गए। पुलिसवालों ने उन लोगो के साथ जानवरो की तरह सलूक किया। 

आजम ने गैर क़ानूनी तरीके से यतीमखाने की जमीन पर कब्ज़ा किया। भले ही लोगो के घर बेघर हो गए, लेकिन स्कूल की दीवारे ऊँची होती जा रही है। 50 करोड़ की जमीन पर कब्ज़ा किया गया है।

खुलासा न - 5: गैरकानूनी तरीके से वक्फ़ बोर्ड की जमीनों का घोटाला

Source = Favista

आजम खान ने 50 करोड़ की यतीमखाने की सम्पति पर कब्ज़ा किया। इसके लिए इन्होने कागजो पर हेरफेर किया, यहाँ तक की नियमो को भी अपने हिसाब से बदल दिया गया। आइये जाने यतीमखाने से बेघर हुए कई पीड़ितों में से एक और पीड़ित का बयान-

पीड़ित का नाम: पीर बक्श

पीर बक्श ने कहा कि उनकी सरकार थी, तो उन्होंने जो चाहा वो किया। इस जगह का पैसा यतीमख़ानों को जाना था, क्योंकि नवाब रामपुर ने कहा था कि इसका जो पैसा है वो उनकी औलाद नहीं लेगी। अँधा कानून चल रहा है, हम यहाँ थे नहीं फिर भी हमारे ऊपर झूठी रिपोर्ट दर्ज की गयी।

खुलासा न - 6: वक्फ़ की करोड़ों जमीन 1 रूपये सालाना लीज पर हथियाई

नियमो के अनुसार वफ्फ की उस जगह पर एजुकेशन काम्प्लेक्स बनाना गैर क़ानूनी है। इसके बावजूद भी एक्ट 1995 का उल्लघन कर स्कूल बनवाया गया। अपने कामो के लिए करोड़ो की जमीन आजम ने मात्र 1 रूपये सालाना लीज पर हथियाई।


इन सब बातों पर आजम खान का बयान

Source = Abplive

आजम का कहना है कि वक्फ़ की जमीन का इससे बेहतर इस्तेमाल क्या हो सकता है। यहाँ लड़कियों के लिए स्कूल बन रहा है, यह हाई कोर्ट की रूलिंग का कहना है।

इसके अलावा उन्होंने कहा, हमने 200 दुकाने बनवाली और हमें मालूम भी नहीं कहा है वो दुकाने, किसी जायदाद पर हमारा कोई ज्याति अधिकार नहीं है।

हालाँकि, योगिराज ने आजम खान पर वफ्फ बोर्ड की अरोबो की संपत्ति कब्जाने के आरोपों की जांच के निर्देश दे दिए है। जिसके बाद लोगों में इंसाफ की उम्मीद भी जगी है।


Comment