फिल्म इंदु सरकार को लेकर कांग्रेस का बवाल बरकरार, अब मधुर की टीम करेगी प्रदर्शन

फिल्ममेकर मधुर भंडारकर द्वारा निर्मित फिल्म 'इंदु सरकार' विवादों से घिर चुकी है।

3 months ago
फिल्म इंदु सरकार को लेकर कांग्रेस का बवाल बरकरार, अब मधुर की टीम करेगी प्रदर्शन

फिल्ममेकर मधुर भंडारकर द्वारा निर्मित फिल्म 'इंदु सरकार' विवादों से घिर चुकी है। जब से इस फिल्म से सम्बंधित कुछ खबरें बाहर आई है, तभी से लगातार इस पर विवाद गर्माया हुआ है। इस फिल्म को लेकर कांग्रेस पार्टी द्वारा एक के बाद एक पुरे देश में विरोध प्रदर्शन जारी है। लेकिन अब इस विरोध का उत्तर देने के लिए फिल्म की टीम भी सामने आ गई है। विरोध प्रदर्शन का जवाब देने के लिए मधुर और उनकी टीम ने यह निर्णय लिया है कि वो कांग्रेस द्वारा लगातार किये जा रहे विरोध प्रदर्शन का जवाब देंगे।

इन स्थानों पर विरोध प्रदर्शन

इस विवाद को देखते हुए देश भर में बुधवार के दिन अलग-अलग जगहों पर फिल्म की टीम ने कांग्रेस के विरूद्ध प्रदर्शन करेगी। इस विरोध प्रदर्शन में दिल्ली, उत्तर प्रदेश, गोआ, पुड्डुचेरी, महाराष्ट्र, तेलंगाना, राजस्थान, झारखंड, गुजरात, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, असम ,उड़ीसा, मध्य प्रदेश, बिहार,पंजाब, केरल और कर्नाटक नाम शामिल हैं। जहाँ पर मधुर की टीम प्रदर्शन करने वाली है।

प्रचार के लिए डिजिटल पोस्टर्स बनाये

शाम 6 बजे से ये प्रदर्शन आरम्भ किया जायेगा। इसका प्रचार सोशल मीडिया पर भी किया जा रहा है। इस प्रदर्शन के लिए फिल्म की टीम ने डिजिटल पोस्टर्स भी तैयार किये है। 

डायरेक्टर मधुर भंडारकर की 1975 में इमरजेंसी के बैकड्रॉप पर आधारित फिल्म 'इंदू सरकार' रिलीज से पहले ही विवादों में बनी हुई है। हाल ही में फिल्म की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया जिसकी वजह से फिल्म की कॉन्फ्रेंस को भी टाला गया।

कांग्रेस के कारण प्रेस कॉन्फ्रेंस स्थगित

आपको अवगत करा दे कि फिल्म की प्रमोशन के लिए पूरी स्टारकास्ट पुणे पहुंची थी। परन्तु कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ता  स्टारकास्ट के वहां पहुंचने से पहले ही वहां पहुंच गए। वहां पर वह मधुर भंडारकर से मिलने की बात करने की जिद करने लगेI जिसके बाद सुरक्षा कारणों के चलते प्रेस कॉन्फ्रेंस को टाल दिया गया I

हालांकि कि फिल्म के ट्रेलर लॉन्च के बाद से ही देशभर में फिल्म को बहुत विरोध झेलना पड़ रहा हैI यह विरोध कोई छोटा मोटा विरोध नहीं है। बात यहाँ तक पहुंच गयी है कि मधुर भंडारकर (2.2-9) को लीगल नोटिस तक भेज दिया है। साथ ही उनका पुतला फंक कर भी प्रदर्शन किया गया है।

मधुर को बताया बीजेपी का समर्थक

कांग्रेस द्वारा मधुर पर आरोप भी लगाया गया है कि वो मोदी के समर्थक हैं फिल्म को बीजेपी का समर्थन मिल रहा है। जो विपक्ष को जवाब देने के मकसद से बनायीं गयी है।

इस बात पर मधुर ने कहा कि अगर यही बात होती तो मेरी फिल्म में 17 कट्स नहीं लगाए जा रहे होते। मुझे 'कम्यूनिस्ट','अकाली','आरएसस' और  'जेपी नरायण' जैसे शब्द हटाने को बोला गया है।

अपनी फिल्म का गाना लॉन्च करने के लिए दिल्ली पहुंचे मधुर ने कहा कि - 'सीबीएफसी ने 17 कट मांगे हैं. मेरे पास यह लेटर आज आया है ये तो तय है कि मैं कट नहीं लगाऊंगा. मैं अपनी लीगल टीम के साथ उस लेटर को पढूंगा फिर सोचूंगा कि क्या करना है. यदि आवश्यकता पड़ी तो मैं दिल्ली में ट्रिब्यूनल कोर्ट में भी जाऊंगा.'

अभी सिर्फ ट्रेलर रिलीज हुआ है जिसे देखकर इतना बवाल खड़ा हो गया है। इसका मतलब है कि फिम की रिलीज़ तक बहुत कुछ हंगामा देखने को मिलेगा। यह फिल्म 28 जुलाई को रिलीज होने वाली है।

Comment

Popular Posts