गरीब परिवार ने पक्का मकान तोड़ बनवाया शौचालय - मोदी के स्वच्छ भारत अभियान से हुए प्रेरित

2014 में भारत की कमान अपने हाथ में लेने के बाद प्रधा

2 months ago
गरीब परिवार ने पक्का मकान तोड़ बनवाया शौचालय - मोदी के स्वच्छ भारत अभियान से हुए प्रेरित

2014 में भारत की कमान अपने हाथ में लेने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से देशवासियों से भारत को स्वच्छ बनाने की अपील की थी। इसके बाद उन्होंने "स्वच्छ भारत अभियान" की शुरुआत भी की थी। इस मिशन के तहत उन्होंने लोगों को इस साफ-सफाई रखने तथा घर में शौचालय बनाने का निवेदन किया था। साथ ही केंद्र सरकार ने इस कार्य के लिए अपनी तरफ से पूरा सहयोग देने की बात भी कही थी।  

देश की जनता को मोदी से है खासा लगाव

Source = Livemint

यह बात हम नहीं कहते बल्कि देश तथा विदेश में रहने वाला हर व्यक्ति इस बात को मानता है कि मोदी जैसा कोई नहीं हो सकता है। यही कारण है कि हर मौके पर देश के लोगों ने उनका साथ दिया और उनकी हार बात को माना। फिर चाहे बात स्वच्छता की हो या नोटबंदी की, मोदी जी की एक अपील से पूरा देश उनके साथ खड़ा रहा और देश के विकास में सबने अपना योगदान दिया।  

मोदी की अपील का असर

Source = Indiatvnews

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान को देश के गरीब से गरीब व्यक्ति ने सही माना है और उनकी इस अपील के बाद कई ऐसे मामले सामने आये जो वाकई में एक मिसाल है। ऐसा ही एक मामला दोबारा सामने आया है। छतीसगढ़ के एक गरीब परिवार ने इस तरह का एक आश्चर्य जनक कदम उठाया। जिससे वह चर्चा का विषय बना हुआ है। दरअसल, छतीसगढ़ के धमतरी जिले के राम  सुन्दर लोहार जिनके घर में पक्का मकान होने के वावजूद भी शौचालय नहीं था। 

परन्तु मोदी जी की अपील के बाद उन्होंने अपना पक्का मकान तुड़वा दिया और फिर शौचालय बनवाया। घर टूटने के बाद राम सुन्दर लोहार का परिवार झोपड़ी में ही रह रहा है। लेकिन  उनको इस बात का कोई दुःख नहीं है। ये इस बात से खुश है कि उनके घर में भी शौचालय बन गया है और अब घर का कोई सदस्य खुले में शौच करने नहीं जायेगा।

इस तरह का जीवन है राम सुन्दर लोहार का

Source = News18

छत्तीसगढ़ के धमतरी के नगरी ब्लाक के ग्राम पंचायत सांकरा के आश्रित नवगांव के रहने वाले हैं। राम सुन्दर लोहार मजदूरी करके  अपना घर चलाते है। उन्होंने काफी मेहनत के बाद पैसा जोड़कर अपना पक्का घर बनवाया था। लेकिन कुछ महीने पहले जब राम सुन्दर ने प्रधानमत्री मोदी का स्वच्छ भारत अभियान का भाषण सुना और वो उससे इतना प्रेरित हुए कि उन्होंने भी घर में शौचालय बनवाने का विचार कर लिया। लेकिन पैसे की कमी के कारण शौचालय निर्माण का काम शुरू नहीं कर पाए। इसलिए उन्होंने अपने घर की दीवार को तोड़ दिया और उसकी ईटों से शौचालय बनवाया।

घर की दीवारे तोड़ने पर गॉव वालो ने राम सुन्दर लोहार का मजाक  उडाया। यहाँ तक की कुछ लोगों ने तो उनका ये फैसला गलत तक बता दिया था। लेकिन राम सुन्दर लोहार को तो इस बात की खुशी थी कि उनके घर में अब शौचालय बन गया है। जिससे उनके घर की बहु बेटियों को बाहर नहीं जाना पड़ेगा और उनका परिवार बिमारियों से सुरक्षित रहेगा।  

लोगों ने राम सुन्दर लोहार के लिए सरकार से अपील की है कि अब उनका पक्का मकान सरकार बनवा दे ताकि अन्य लोगों में भी यह मिसाल कायम हो जाये। वहां के स्थानीय बीजेपी नेता रामू रोहरा ने भी केंद्र और राज्य सरकार से रामसुंदर लोहार का घर पक्का बनवाने का अनुरोध किया है।    

Comment