बीजेपी नेता ने खोला राज, जानिए मोदी के कान में क्या बोले थे मुलायम

रविवार 19 मार्च 2017, को उत्तर प्रदेश के नए सीएम योगी

8 months ago
बीजेपी नेता ने खोला राज, जानिए मोदी के कान में क्या बोले थे मुलायम

रविवार 19 मार्च 2017, को उत्तर प्रदेश के नए सीएम योगी आदित्नाथ ने अपने पद व गोपनीयता की शपथ ग्रहण की| इस शपथ ग्रहण समारोह में पीएम मोदी जी समेत बीजेपी शासित राज्यों व एनडीए के घटक दलों के सीएम भी शामिल हुए थे| साथ ही स्टेज पर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव तथा उनके पिता मुलायम सिंह यादव भी मौजूद थे|

इस समारोह के दिन स्टेज पर कुछ ऐसा हुआ, जिसे देखकर सबके मन में कई सवाल उठ गए। दरहसल उस दिन मुलायम सिंह को मोदी के कान में कुछ फुसफुसाते हुए देखा गया था। और इसके बाद मुलायम ने अपने बेटे अखिलेश को मोदी से मिलवाया भी|

अखिलेश से मिले नरेंद्र मोदी

मुलायम ने हाथ मिलाते हुए नरेंद्र मोदी को बधाई दी, दोनों नेताओ ने एक दूसरे से हाथ मिलाया| इसके बाद मुलायम ने मोदी को गले लगाकर भी बधाई दी| फिर दोनों के बिच बातचीत हुई और मुलायम ने मोदी के कानो में कुछ फुसफुसाकर कहा| इसके बाद मोदी ने सहमति देते हुए अपना सर हिलाया| 

अखिलेश ने भी पीएम मोदी से हाथ मिलाया| हाथ मिलाते वक्त मोदी ने अखिलेश की पीठ भी थपथपाई| दोनों काफी मुस्कुरा के बात भी कर रहे थे| तब से अभी तक बस यही कयास लगाये जा रहे है की आखिर मुलायम ने मोदी के कानो में क्या कहा?

मुलायम ने मोदी से यह कहा 

अभी तक इस बात की पुष्टि तो नहीं हुई है की मुलायम ने मोदी के कानो में क्या कहा होगा| लेकिन एक अंग्रेजी अखबार द्वारा दावा किया गया है कि उनको किसी सीनियर नेता ने मुलायम और मोदी के बीच हुई बातचीत के बारे में बताया है। 

अखबार की खबर कहती है कि मुलायम ने पहले मोदी के कान में कहा था, ‘थोड़ा अखिलेश का ख्याल रखिए’

और यह कहने के बाद ही वो अखिलेश को मोदी के पास लेकर आए। फिर उन्होंने दोनों का हाथ मिलवाकर मोदी से कहा, ‘इनको सिखाइए’ इस पर मोदी ने हाथ मिलाते हुए अखिलेश की पीठ भी थपथपाई थी और साथ ही सहमति देते हुए अपना सिर हिला दिया था।

योगी के इस शपथ ग्रहण समारोह में मुलायम और उनके बेटे अखिलेश दोनों वहा थे| इसके अलावा भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी और यूपी के पूर्व सीएम नारायण दत्त तिवारी सहित पार्टी के कई नेता मौजूद वहा मौजूद थे| लेकिन उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख मायावती वहा नहीं पहुंची।

Comment