इलाज के लिए पाकिस्तानी बच्चे को भारतीय वीजा दिलाएंगी सुषमा स्वराज

एक बार फिर विदेश मंत्री सु

4 months ago
इलाज के लिए पाकिस्तानी बच्चे को भारतीय वीजा दिलाएंगी सुषमा स्वराज

एक बार फिर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अपनी आत्मीयता का परिचय दिया है। उनके दिल ने इस बार एक पाकिस्तानी बच्चे के लिए दया भावना दिखाई दी। जिसे किसी इलाज के लिए भारत आना है। बुधवार को लाहौर में रहने वाले एक युवक ने ट्वीट कर सरताज अजीज और सुषमा स्वराज मैडम से एक सवाल करते हुए पूछा कि “दोनों देशों के रिश्तों की सजा मेरा बेटा क्यों भुगते, जवाब दीजिये सरताज अजीज और सुषमा स्वराज मैडम." 

सुषमा स्वराज ने अपने जवाब में लिखा

पाकिस्तानी व्यक्ति के प्रश्न का उत्तर देते हुए "विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शख्स को ट्रीटमेंट के लिए वीजा देने का भरोसा दिया है. सुषमा ने कहा कि आप वहां पर भारतीय दूतावास में संपर्क करें, बच्चे को कोई तकलीफ नहीं होगी. हम उसे मेडिकल वीजा देंगे."

कुछ समय पहले यह तय किया गया था कि पाकिस्तान के सरताज अजीज जो विदेश मामलो के सलाहकार है। उनकी शिफारिश पर ही किसी पाकिस्तानी नागरिक को भारत आने के लिए वीजा दिया जायेगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने इन सभी बातों को खारिज करते हुए कहा था कि भारत ने मेडिकल वीजा देना बंद नहीं किया है। उन्होंने इस बात को साफ करते हुए कहा कि केवल सरताज अजीज के सिफारिशी पत्र पर ही तुरंत कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा था कि सोशल मीडिया के जरिये सुषमा स्वराज को कई मेडिकल शिकायते लगातार आ रही है और कितनी बार मेडिकल वीजा दिया गया है।

सुषमा ने हमेशा की मदद

Source = Cloudfront

यह पहला मामला नहीं है जब विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने किसी अन्य देश के नागरिक की मदद की है। हाल ही में हुए दो वाकिये को कौन भूल सकता है। सुषमा के प्रयासों की बदौलत ही पाकिस्तान द्वारा बंधक बनाकर भारतीय पूर्व नेवी ऑफिसर कुलभूषण जाधव (1.1-2) को मौत का फरमान सुनाये जाने के बाद से ही उन्होंने अहम् फैसले लेते हुए तथा सतर्कता से काम करते हुए इंटरनेशनल कोर्ट में इस मुद्दे को उठाया और पाक की नापाक हरकतों को पूरी दुनिया के सामने बेनकाब कर दिया। साथ ही कुलभूषण जाधव को दी गई फांसी पर रोक भी लगाई गई। यह सब भारत सरकार विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का प्रयासों से ही सफल हो पाया था। 

इसके अलावा भारतीय मूल की उज़्मा खान का मामला तो आप भी जानते होंगे। दरअसल, कुछ समय पहले पाकिस्तान के एक शख्स ने उनसे धोके से निकाह कर लिया था। जिसके बाद से उन्हें वहा बहुत सताया और परेशान किया जा रहा था। उन्होंने अपनी इस परेशानी को ट्विटर पर सुषमा स्वराज के सामने रखा। जिसके बाद सुषमा के प्रयासों की बदौलत आज वो सुरक्षित भारत लौट आयी है।

भारत लौटने पर उज्मा ने कहा

"सुषमा मैम को जितना भी धन्यवाद दूँ, उतना कम है। वो मुझे हमेशा दिलासा देती थी कि तुम्हे कुछ नहीं होगा, तुम भारत की बेटी हो, इससे मुझे बहुत हौसला मिला और आज में यहाँ इन्ही के प्रयासों की बदौलत ही सही सलामत कड़ी हूँ।"    

उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में भावुक होकर कहा   

"मुझे हिन्दुस्तान आकर बेहद खुशी हुई। अब लग रहा है कि मैं खुली हवा में सांस ले रही हूं। मैं सुषमा मैडम को धन्यवाद देती हूं। मैं सिर्फ घूमने के लिए पाकिस्तान गई थी। वहां, ताहिर ने मुझे नींद की गोलियां देकर टॉर्चर किया। किडनैप कर मुझे एक अजीब से गांव में रखा। वहां के लोग और बोली बिल्कुल अलग थी। उसने मुझे डराया और बेटी को किडनैप करने की धमकी देकर साइन करा लिए थे।”


Comment