शहीद जवानों को नम आंखों से दी गई अंतिम विदाई - बेटी बोली - चाहिए 1 के बदले 50 सिर

भारत पाकिस्तान की नियंत्रण रेखा के पास मेंढर सेक...

3 months ago
शहीद जवानों को नम आंखों से दी गई अंतिम विदाई - बेटी बोली - चाहिए 1 के बदले 50 सिर

भारत पाकिस्तान की नियंत्रण रेखा के पास मेंढर सेक्टर में शहीद हुए जवानो के पार्थिव शरीर कल उनके घर पहुंचे। शहीद परमजीत सिंह का पार्थिव शरीर जब उनके घर पहुंचा तो उनकी पत्नी ने बताया कि सरकार के तरफ से उनसे मिलने के लिए अभी तक कोई भी नहीं आया, तो वही उनकी बेटी ने कहा कि हमे अपने पिता का पूरा शव चाहिए।

राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

शहीद सैनिक परमजीत सिंह का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान पुरे ग्राम के लोग उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे थे।

प्रेमसागर के परिवार ने भी लगाई गुहार

शहीद हुए दूसरे बीएसएफ के जवान प्रेम सागर के भाई ने कहा कि मेरा भाई शहीद हुआ है और हम सभी को उस पर गर्व है। प्रेम सागर के भाई ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से कहना चाहूंगा कि जैसे पाकिस्तान के सैनिको ने हमारे जवानों के साथ किया है। वैसे ही उनके साथ भी करे। प्रेम सागर उत्तरप्रदेश के देवरिया के रहने वाले थे। उन्होंने सोमवार को ही सुबह अपनी पत्नी से फोन पर बात कर घर परिवार का हाल चल जाना था और इसी दिन रात को खबर मिली की प्रेम सागर शहीद हो गए है।


गुस्से में गांव वाले

प्रेम सागर के भाई ने कहा कि दुख के साथ खुशी भी है कि मेरा भाई देश की सेवा करते समय शहीद हुआ। वही अन्य गांव वाले बहुत ही गुस्से में थे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पाकिस्तान के खिलाफ जल्द ही कड़ा एक्शन लेना चाहिए।

भावुक हुए परमजीत के भाई

परमजीत के भाई चरणजीत सिंह ने कहा कि कब तक देश के जवान शहीद होते रहेंगे। चरणजीत ने कहा कि 56 इंच की छाती वाले हमारे नरेंद्र मोदी जी कब इस पर मौन रहेंगे।

बेटियों ने लगाई योगी से गुहार

प्रेम सागर की बेटियों ने भी पाकिस्तान से बदला लेने की बात कही है। उनकी बेटियों ने उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गुहार लागई है कि उनके पिता के न होने के कारण उनके देख-रेख करे और प्रेम सागर की बेटी सरोज ने अपने पिता के शहीद होने पर पाकिस्तानी सेना के 50 जवानों के सिर काटने की मांग भी है।


Comment